Published On : Sat, May 10th, 2014

अमरावती : कवायद भर नहीं, नौकरी भी दिलाता है खेल


क्रीड़ा उपसंचालक जयप्रकाश दुबले ने कहा


अमरावती

Gymnastic 2
खेल महज एक कवायद भर नहीं है, बल्कि इसके माध्यम से करियर भी बनाया जा सकता है. इसलिए अभिभावक अपने बच्चों को केवल समर कैम्प तक ही सीमित रखने की बजाय क्रीड़ा क्षेत्र में लगातार सक्रिय रखें. क्रीड़ा उपसंचालक जयप्रकाश दुबले ने यह आवाहन किया. वे खिलाड़ियों के सम्मान समारोह में बोल रहे थे.

Advertisement

श्री हनुमान व्यायाम प्रसारक मंडल के अनंत क्रीड़ा मंदिर द्वारा विभागीय जिम्नास्टिक प्रशिक्षण शिविर के समापन समारोह और 39 वीं जिम्नास्टिक स्पर्धा के गुणवत्ताप्राप्त खिलाड़ियों का सम्मान समारोह आज 10 मई को सुबह आयोजित किया गया था. कार्यक्रम की अध्यक्षता अमरावती ज़िला हौशी जिम्नास्टिक संघटना के अध्यक्ष डॉ. चंद्रशेखर कुलकर्णी ने की. मंच पर जिला क्रीड़ा अधिकारी अविनाश पुंड, डीसीपीई के पूर्व प्राचार्य वसंतराव हरने, श्री हनुमान व्यायाम प्रसारक मंडल की सचिव प्रा. श्रीमती माधुरीताई चेंडके, अधि. कल्पेश शाह, जिला वकील संघ अमरावती के अध्यक्ष अधि. चंद्रशेखर डोरले, डॉ. सुभाषचंद्र शर्मा प्रमुख रूप से उपस्थित थे.

Advertisement

शिविर भी, स्पर्धा भी
श्री हनुमान व्यायाम प्रसारक मंडल में 15 अप्रैल से 10 मई के बीच विभागीय जिम्नास्टिक प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया था. उसी तरह 6 से 9 मई के बीच अनंत क्रीड़ा मंदिर में जिम्नास्टिक का लगातार प्रशिक्षण प्राप्त खिलाड़ियों के साथ शिविर के खिलाड़ियों के सहयोग से 39 जिम्नास्टिक स्पर्धा भी खेली गई. दोनों प्रतियोगिताओं के गुणवत्ताप्राप्त खिलाड़ियों को आज ट्रॉफी, मेडल प्रदान किए गए.

Advertisement

Gymnastic
इन लोगों को मिले पुरस्कार

लड़के 8 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – राजवीर राहल प्रथम, हर्षवर्धन हिरोडे द्वितीय, साहिल कन्हेकर और कौशिक यावलकर तृतीय.
लड़के 10 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – जय देवकर प्रथम, ओम दांडगे और आदित्य राहल द्वितीय, शिवराज उमाले एवं रमन पाचखेड़े तृतीय.
लड़के 12 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – ऋतिक ओडे प्रथम, क्षितिज ठाकरे और शार्दुल तिड़के द्वितीय, प्रथमेश गुंबले एवं अनमोल मोंढे तृतीय.
लड़के 14 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – रंजन लक्कावार प्रथम, रोहित देवीकर और ऋतिक गायकवाड़ द्वितीय, विनय हिमाने एवं सिद्धांत यादव तृतीय.

लड़कियां 8 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. गौरी कलाने प्रथम, कु. स्नेहल कन्हेकर और कु. महक मेहता द्वितीय, कु. श्रेया पांडे एवं कु. उन्नति बोरकुटे तृतीय.
लड़कियां 10 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. सुखदा हम्बर्डे प्रथम, कु. रुचाली यादव द्वितीय एवं कु. नंदिनी उज्जैनकर तृतीय.
जूनियर गर्ल्स रिद्मिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. जान्हवी तिड़के प्रथम, कु. रितिका व्यास द्वितीय
सीनियर गर्ल्स रिद्मिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. साक्षी व्यास प्रथम, कु. गौरी भावे द्वितीय
लड़कियां 12 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. श्रुति वानखेड़े प्रथम, कु. रश्मि गायकवाड़ और कु. गायत्री उपरीकर द्वितीय, कु. श्वेता कोरोडे एवं कु. भाग्यश्री कलाने तृतीय.
लड़कियां 14 वर्ष आयु समूह आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. श्रुति पांडे प्रथम, कु. ऋतुजा सातपुते और कु. ऋतुजा काले द्वितीय, कु. राधिका मानकर एवं कु. वैदेही कोहले तृतीय.
जूनियर गर्ल्स आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. दर्शना काकड़े प्रथम, कु. प्राजक्ता धर्माले एवं पूर्णिमा डवले द्वितीय
सीनियर गर्ल्स आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक विजेता – कु. वैष्णवी गव्हाणे प्रथम, कु. वृषाली बिजवे द्वितीय, कु. गौरी आरोकार एवं कु. सलोनी मोंढे तृतीय.

पुरस्कार से पहले प्रयोग
पुरस्कार वितरण से पहले खिलाड़ियों ने टॉवर पिरामिड, एरोबिक्स जिम्नास्टिक, रिद्मिक जिम्नास्टिक, वॉल पिरामिड, रोमन रिंग आदि के प्रयोग कर दिखाए। अमरावती के वरिष्ठ खिलाड़ी 71 वर्षीय मधुकर तांबे ने क्रीड़ा क्षेत्र में युवाओं को प्रोत्साहित करने वाला प्रदर्शन किया. उन्होंने हाल ही में मुधोलकर पेठ में पंजा लड़ाते हुए प्रथम क्रमांक ज़ीता था. उनका हाल में विशेष तौर पर सत्कार किया गया था.
Gymnastic 3

 

 

 

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement