Published On : Thu, May 8th, 2014

अकोला : मतगणना के लिये कुल 336 अधिकारियों और कर्मचारियों की नियुक्ति


अकोला

 

Voting 1
अकोला लोकसभा संसदीय क्षेत्र के लिए किए गए मतदान के बाद वोटों की गिनती आगामी 16 मई को 84 टेबलों पर की जाएगी. इसके लिए जिलाधिकारी एवं चुनाव निर्णय अधिकारी द्वारा 84 पर्यवेक्षक, 168 मतगणना सहायक एवं 84 स्थायी निरीक्षक आदि मिला कर कुल 336 अधिकारियों और कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है.

उल्लेखनीय है कि अकोला संसदीय क्षेत्र की एक जगह के लिए 10 अप्रैल को मतदान हुआ था. अकोला पूर्व, अकोला पश्‍चिम, बालापुर, अकोट, मुर्तिजापुर एवं वाशिम जिले के रिसोड- छह विधानसभा क्षेत्रों के 1 हजार 755 मतदान केंद्रों पर मतदान हुआ था. मतदान के बाद सात प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम मशीनों में बंद है. सभी ईवीएम मशीनों को कड़े पुलिस बंदोबस्त में खदान परिसर में स्थित सरकारी गोदाम में रखा गया है, जिन्हें 16 मई को निकालकर मतगणना के बाद अकोला लोकसभा चुनाव का परिणाम घोषित किया जाएगा.

विगत कुछ दिनों पहले राजस्व कर्मचारी एवं अधिकारियों के आंदोलन के कारण मतगणना अधिकारी तथा कर्मचारियों की नियुक्ति नहीं की जा सकी थी. लेकिन आंदोलन समाप्त होते हुए जिलाधिकारी ने पर्यवेक्षक, सहायक एवं स्थायी निरीक्षक अधिकारी, कर्मचारियों की नियुक्ति की है. छह विधानसभा क्षेत्रों में वोटों की गिनती के लिए 14 टेबलों के क्रम से 84 टेबल वोटों की गिनती के लिए लगाए जाएंगे. जिलाधिकारी एवं चुनाव निर्णय अधिकारी का अनुमान है कि सुबह के समय आरंभ होने वाली मतगणना के परिणाम महज तीन घंटे में ही सामने आ जाएंगे.