Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Thu, Jan 7th, 2021

    भारत में COVID-19 संक्रमितों की संख्या 1,03,95,278 हो गई है

    नागपुर– भारत समेत दुनियाभर के 190 से ज्यादा देश कोरोनावायरस (Coronavirus) की चपेट में हैं. अभी तक 8.71 करोड़ से ज्यादा लोग इस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. यह वायरस 18.82 लाख से ज्यादा संक्रमितों की जिंदगी छीन चुका है. भारत (Coronavirus India Report) में भी हर रोज COVID-19 के मामले बढ़ रहे हैं. संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ पार हो चुकी है. स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा गुरुवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1,03,95,278 हो गई है. पिछले 24 घंटों में (बुधवार सुबह 8 बजे से लेकर गुरुवार सुबह 8 बजे तक) कोरोना के 20,346 नए मामले सामने आए हैं.

    पिछले 24 घंटों में 19,587 मरीज ठीक हुए हैं. इस दौरान 222 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है. अब तक कुल 1,00,16,859 मरीज ठीक हो चुके हैं. 1,50,336 लोगों की जान गई है. कोरोना के मौजूदा मामलों की संख्या 2.5 लाख से नीचे है. इस समय देश में 2,28,083 एक्टिव केस हैं. रिकवरी रेट की बात करें तो यह मामूली बढ़ोतरी के बाद 96.35 प्रतिशत पर पहुंच गया है. यह अब तक सबसे ज्यादा है. पॉजिटिविटी रेट 2.17 फीसदी है. डेथ रेट 1.44 प्रतिशत है. 6 जनवरी को 9,37,590 कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए. अभी तक कुल 17,84,00,995 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं.

    बताते चलें कि भारत में DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. अगले कुछ दिनों में टीकाकरण की कार्यवाही शुरू होगी. वहीं दूसरी ओर वैक्सीन के नाम पर फर्जीवाड़े की खबरें भी सोशल मीडिया पर तेजी से प्रसारित हो रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने बुधवार को लोगों को को-विन (CoWin app) नाम के किसी मोबाइल एप को डाउनलोड करने और उनपर सूचना साझा करने के खिलाफ आगाह किया. दरअसल, इन्हें शरारती तत्वों ने बनाया है और उनके नाम कोविड-19 टीकाकरण (Covid-19 Vaccination) के लिए सरकार के आगामी आधिकारिक एप से मिलते-जुलते हैं.

    डॉक्टर हर्षवर्धन ने ट्वीट किया, ‘सरकार के आगामी आधिकारिक मंच से मिलते-जुलते नाम वाले कुछ एप शरारती तत्वों ने बनाए हैं, जो एपस्टोर्स पर हैं. उन (एप) को डाउनलोड या उन पर व्यक्तिगत जानकारी साझा नहीं करें. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का अधिकारिक मंच (सरकार से मंजूरी प्राप्त) एप आने पर उसे उपयुक्त रूप से प्रकाशित करेगा.’

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145