| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Dec 22nd, 2020

    भ्रष्टाचारी GM को सौंपी गई SENSITIVE POST,पुनः धांधली की संभावना

    – INTUC नेता आबिद हुसैन जाहिद हुसैन ने वेकोलि CMD व CBI का ध्यानाकर्षण करवाया

    वणी/नागपुर : WCL वणी उत्तर क्षेत्र की कोलारपिंपरी खदान में OB( OVER BURDEN) ओवर रिपोर्टिंग कर अतिरिक्त राशि का भुगतान करने के आरोप में वणी उत्तर क्षेत्र के GM ( महाप्रबंधक) RK SINGH सह 16 अधिकारियों व कर्मियों को चार्टशीट जारी किया गया था.उक्त धांधली पर INTUC नेता आबिद हुसैन जाहिद हुसैन ने वेकोलि CMD सह CBI का इस ओर ध्यानाकर्षण करवाया था.इतनी संगीन मामले के सुत्रधाकर RK SINGH को वेकोलि प्रबंधन ने सजा के तौर पर मुख्यधारा से दरकिनार करने की बजाय सीधा SENSITIVE POST याने GM PRODUCTION की जिम्मेदारी सौंप दी गई.जिसके खिलाफ पुनः आबिद हुसैन ज़ाहिद हुसैन ने CMD सह CBI को पत्र लिख सौंपी गई जिम्मेदारी से मुक्त करने की मांग की.इसके अलावा चार्टशीट में शामिल शेष 13 अधिकारी व 2 कर्मी आज भी उसी पद पर कायम हैं,जिन पदों पर रहते उनपर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे.हुसैन ने उक्त सभी को SENSITIVE पदों से मुक्त करने की मांग दोहराई हैं.

    याद रहे कि CBI के निर्देश पर वेकोलि CVO की अनुशंसा पर उक्त सभी के खिलाफ चार्टशीट जारी किया गया था.इसमें तत्कालीन महाप्रबंधक RK SINGH,उपक्षेत्रीय प्रबंधक,खदान प्रबंधक,सर्वे अधिकारी,ओवरमैन एवं मामले से सम्बंधित 14 अधिकारी सह 2 कर्मी का समावेश था.जिसमें से पिछले माह 1 अधिकारी का निधन हो चूका हैं.चार्टशीट में ओवर बर्डन मापी में ओवर रिपोर्टिंग करना,OB ठेकेदार को अतिरिक्त राशि का भुगतान करने का आरोप लगाया गया था.जिसका एक माह के भीतर जवाब की मांग की गई थी.

    उल्लेखनीय यह हैं कि कोलारपिंपरी खुली खदान का करीब 561 करोड़ रूपए का OUTSOURCING कार्य गुजरात की सद्भाव इंजीनियरिंग सिर्फ कागजों पर कर रही,इन्होंने काफी काम अपने उप ठेकेदारों को दे रखा हैं.अप्रैल 2018 से जून 2023 तक इस परियोजना से करीब 7 करोड़ 61 लाख क्यूबिक मीटर ओवर बर्डन और 72 लाख टन कोयला निकासी का कार्य इस ऑउटसोर्सिंग कंपनी को दिया गया था.इसमें सॉफ्ट,हार्ड ओवर बर्डन और कोयला 1 से 4 किलोमीटर लीड तक अलग-अलग मात्रा में निकालना हैं.कार्यादेश के मुताबिक कंपनी को ड्राई दिनों में 55000 क्यूबिक मीटर ओवर बर्डन और 5085 टन प्रतिदिन तथा अन्य दिनों में 20000 क्यूबिक मीटर ओवर बर्डन एवं 1967 टन कोयला उत्पादन करना हैं.

    कोलारपिंपरी में वेकोलि के अधीन चलने वाली सद्भाव इंजीनियरिंग कंपनी ने कोयला उत्खनन के दौरान ओवर बर्डन हटाने के नियम को ताक पर रख उत्खनन किया। नियम के अनुसार 70 लाख क्यूबिक मीटर ओवर बर्डन हटाने के बाद जितना कोयला का उत्पादन होना चाहिए,नहीं किया गया.इसके बावजूद स्थानीय अधिकारियों से समझौता कर कंपनी ने लगभग 8 करोड़ रूपए उठा लिये।मामले की जाँच बाद 14 अधिकारियों व 2 कर्मियों के खिलाफ चार्टशीट जारी की गई थी.

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145