Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sat, Jan 23rd, 2021
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया: 20 साल से किराया बकाया , दुकानें सील

    किराया व टैक्स वसूली को लेकर राजनेताओं के खिलाफ न.प प्रशासन हुआ सख्त

    गोंदिया वर्षों से दुकान का किराया न भरने वालों और प्रॉपर्टी टैक्स जमा न करने वाले राजनेताओं के खिलाफ नगर परिषद प्रशासन ने सख्त तेवर अपनाते हुए उनकी दुकानें व प्रॉपर्टी सील करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

    न.प बाजार टैक्स विभाग के अधिकारी ने जानकारी देते बताया-पुराना बस स्टैंड रोड पर कृषि उत्पन्न बाजार समिति ( मटन मार्केट ) के सामने नगर परिषद की मालकियत का व्यापार संकुल है इसमें तीन दुकानें एक साथ लगी हुई है जो राष्ट्रवादी नेता के परिवार की हैं।

    प्रत्येक दुकान का मासिक किराया महज 1000 रूपए के लगभग है लेकिन जब से यह मार्केट बना तब से 20 वर्षों का किराया इन दुकानों पर बकाया है।

    बड़े बकायादारों के खिलाफ बड़ा एक्शन
    22 जनवरी शुक्रवार को 2 दुकानें सील कर दी गई है दुकान नंबर 3 पर वर्ष 2002 से 4 लाख 50 हजार 968 रूपए किराया बकाया है उसी प्रकार दुकान नंबर 4 पर 2 लाख 84 हजार 544 रूपए बकाया है अगर किराया और टैक्स नहीं भरते तो इनकी तीसरी दुकान भी सील की जाएगी जिस पर 4 लाख 44 हजार 644 रुपए किराया बकाया है और दुकानें जप्त कर नीलाम करने से भी नगर परिषद प्रशासन पीछे नहीं हटेगा ?

    विशेष उल्लेखनीय है कि अब तक राजनीतिक संरक्षण प्राप्त बड़े बकायेदारों पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं होने से टैक्स वसूली को लेकर अपेक्षित रफ्तार बेहद सुस्त हो गई थी।

    जिला कलेक्टर दीपक कुमार मीणा के आदेश के बाद न.प प्रशासन बड़े बकायेदारों के खिलाफ दनादन एक्शन ले रहा है।

    इन दुकान किरायेदारों को महाराष्ट्र नगर परिषद औद्योगिक नागरिक अधिनियम 1965 के अंतर्गत सूचना ( नोटिस ) दिया गया था तथा भुगतान न करने पर मुख्य अधिकारी करण चौहान के मार्गदर्शन तथा टैक्स विभाग अधिकारी विशाल बनकर के नेतृत्व में बाजार निरीक्षक मुकेश मिश्रा , वसूली विभाग कर्मचारी अजय मिश्रा , विजेंद्र उघड़े , सुधीर भैरव , मालमत्ता विभाग के सहायक कर निरीक्षक प्रदीप

    घोड़ेसवार , श्याम शेंडे, चंद्रशेखर शर्मा , समर मिश्रा व अन्य कर्मचारी तथा पुलिस विभाग की उपस्थिति में दुकानें सील करने की कार्रवाई की गई।

    -रवि आर्य


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145