| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Jan 19th, 2021
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया: ना तुम जीते, न हम हारे

    चौखट से लेकर चौराहे तक हर पार्टी कर रही जीत का दावा

    गोंदिया । सियासी तौर पर 18 जनवरी सोमवार का दिन काफी गहमागहमी भरा रहा गोंदिया जिले के 8 तहसीलों की 189 ग्राम पंचायतों के नतीजे आए और इसी के साथ राकांपा , भाजपा , कांग्रेस तथा चाबी संगठन के नेता और कार्यकर्ता हर कोई चौखट से लेकर चौराहे तक अपनी-अपनी पार्टी के प्रचंड बहुमत के साथ जीत के दावे करने में जुट गया यानी सभी दलों की बल्ले बल्ले हो गई।

    15 दिनों की चुनावी भागदौड़ के बाद जिन प्रत्याशियों को जीत नसीब हुई उन्होंने रात चैन की नींद ली वहीं जो उम्मीदवार चुनावी रणभूमि में पराजित हुए हैं वे अपनों के धोखे से परेशान दिख रहे हैं ऐसे हारे हुए प्रत्याशियों के माथे पर उभरी तनाव की लकीरें अपने मन की बात खुद- ब- खुद बयां कर रही है।


    चुनावी नतीजों ने लोकतंत्र को जीता दिया
    गौरतलब है कि यह ग्राम पंचायत के चुनाव पार्टियों के सिंबल्स (अधिकृत चुनाव चिन्ह ) पर नहीं बल्कि समर्थित उम्मीदवारों की पैनल बनाकर लड़े गए थे लिहाजा ना तुम जीते न हम हारे ? कुछ इसी अंदाज में चुनावी परिणामों का सभी दलों के नेताओं ने स्वागत करते हुए मीडिया को प्रतिक्रिया के दौरान संयमित आचरण अपनाया है।

    हालांकि सरपंच पद का आरक्षण घोषित होने के बाद ग्राम पंचायत पर मजबूती के साथ कब्जा करने के लिए , दल बदल की राजनीति को बढ़ावा मिलेगा।

    पार्टियों के असल जीत के दावे की स्थिति तभी स्पष्ट होगी कि किस दल का सरपंच किस ग्राम पंचायत पर काबिज होता है ?
    फिलहाल अपनी ग्राम पंचायत सीटों को बढ़ाकर बताया जा रहा है तो दूसरे दल की सीटों को घटाया हुआ दिखा जा रहा है।
    जश्न का माहौल: गुलाल उड़ा, मिठाई बांटी

    गोंदिया जिले के 8 तहसीलों के 189 ग्राम पंचायतों के 1693 सीटों के लिए पुलिस के कड़े सुरक्षा बंदोबस्त के बीच 18 जनवरी सोमवार सुबह 10 बजे मतगणना शुरू हुई और इसी के साथ चुनावी रणभूमि में भाग्य आजमा रहे 3151 प्रत्याशियों की धड़कनें हार- जीत के परिणामों को लेकर तेज हो गई।

    अब नतीजे सामने आने के बाद विभिन्न दलों के नेता और उनके कार्यकर्ता अपने-अपने पैनल प्रत्याशी की जीत का दावा कर रहे हैं वही जीत का जश्न मनाने के लिए कुछ उम्मीदवारों के समर्थकों ने गुलाल उड़ाया , ढोल ताशे बजाए और मिठाइयां बांटी तथा विजयी उम्मीदवार के गले में हार फूल डाल कर उनका वार्ड की गलियों में गर्मजोशी के साथ स्वागत किया , दरअसल चुनावी नतीजों ने लोकतंत्र को जीता दिया है।

    -रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145