| | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Dec 27th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया: नक्सलियों के मंसूबे नाकाम, भू सुरंग से विस्फोटक बरामद

    150 जिलेटिन , 27 इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर सहित 20 किलो विस्फोटक बरामद

    गोंदिया खुफिया तंत्र से मिली जानकारी के बाद जिला पुलिस प्रशासन ने मुस्तैदी दिखाते हुए नक्सलियों की एक बड़ी हिंसक योजना को नाकाम कर दिया।

    दरअसल शनिवार 26 दिसंबर को मुखबिर से पुलिस को इस बात की पुख्ता सूचना मिली थी कि गोंदिया जिले के सालेकसा थाना अंतर्गत आने वाले नक्सल ग्रस्त अति दुर्गम क्षेत्र गेंडुरझरिया पहाड़ी जंगल परिसर में नक्सलियों द्वारा बड़ी हिंसक वारदात को अंजाम देने के लिए बारूदी सुरंग बिछाई गई हैं सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया।

    इसके बाद पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे के नेतृत्व में अप्पर पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी , उपविभागीय पोलीस अधिकारी जालिंदर नालकुल , सालेकसा थाना प्रभारी बघेले , सी-60 सालेकसा कमांडो पथक, बीडीडीएस पथक तथा श्वान पथक और नक्सल ऑपरेशन सेल के कर्मचारियों ने गेंडुर झरिया जंगल परिसर के बीच मेटल डिटेक्टर और सुरक्षा उपकरणों के साथ सर्च ऑपरेशन चलाया इसी दौरान मेटल डिटेक्टर से कुछ संदिग्ध सिग्नल मिले जिस पर बारीकी से इलाके का निरीक्षण किया गया , इंडिकेशन के बिनाह पर जमीन के भीतर बिछाए गए आईईडी विस्फोटक दिखाई दिए जिसे डिफ्यूज करते हुए उस जगह को खोदा गया जहां प्लास्टिक बोरी के अंदर थैला और उसके अंदर एक बड़ा स्टील का कंटेनर था जिसमें 150 जिलेटिन तथा स्टील डिब्बे मैं रखें दूसरे थैले से 27 इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर बरामद हुए।

    नक्सलियों द्वारा पुलिस गश्ती दल पर प्राणघातक हमला करने के उद्देश्य से जमीन के भीतर यह 20 किलो विस्फोटक छिपाए गए थे जिसे समय रहते बरामद करते हुए नक्सलियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया गया।

    अब इस प्रकरण के संदर्भ में इलाके में सक्रिय नक्सली दलम से जुड़े माओवादियों के खिलाफ सालेकसा थाने में हत्या के प्रयास की धारा 307, 120 (ब) षड्यंत्र , सह कलम 16, 20, 23 यूएपीए , सह कलम 4, 5 भारतीय विस्फोटक पदार्थ अधिनियम का जुर्म दर्ज किया गया है ।

    मामले की जांच उपविभागीय पोलीस अधिकारी जालिंदर नालकुल कर रहे हैं।

    गौरतलब है कि इसी वर्ष 27 सितंबर को गोंदिया जिले के चिचगढ़ थाना अंतर्गत आने वाले कोसंबी जंगल परिसर से इसी तरह की विस्फोटक सामग्री बरामद हुई थी , 3 माह के दौरान यह दूसरा मामला है ।

    रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145